मयख़ाना-ए- हस्ती में अक्सर हम – Maykhaya, Thikana, Hosh Shayari Status

मयख़ाना -ए- हस्ती में अक्सर हम
अपना ठिकाना भूल गए,
या होश से जाना भूल गए
या होश में आना भूल गए।

यह भी पढ़ें

तुम साकी बनो तो उतार लेगें – Saki, Maykhana, Jamana Shayari Status

तुम साकी बनो तो उतार लेगेंसीने मैं मयखाना सारा,एक...

मयखाने में बैठकर कौन कितनी पी गया – Maykhana, Sharab, Daru, Alcohol, Nashe Par Sad Shyari Status

मयखाने में बैठकर कौन कितनी पी गया,ये तो मयखाना...

टॉप ट्रेंडिंग

हो भी नहीं और हर जहाँ होतुम एक गोरखधंधा...

आरती श्री वृषभानुसुता की, मंजु मूर्ति मोहन ममता की।।त्रिविध...

पूरे की ख्वाहिश मेंइंसान बहुत कुछ खोता है,भूल जाता...