अनुभव वह कंघी है – Anubhav, Kanghi, Jiwan, Samay, Baal Jhadhna Par Suvichar

अनुभव वह कंघी है, जो
जीवन में उस समय
हाथ आती है, जब
बाल झड़ चुके होते हैं..!!

यह भी पढ़ें

जानें क्यों नहीं लगता है पढ़ाई में मन ?

✅ घर में पढ़ने का माहौल ना होना✅ पैसों...

हमारा व्यवहार कई बार हमारे ज्ञान से – Vyavhar, Gyan, Jiwan, Visham Paristhitiyan, Haar, Jeet par Suvichar

हमारा व्यवहार कई बार हमारे ज्ञान सेअधिक अच्छा साबित...

टॉप ट्रेंडिंग

आप सभी को शारदीय #नवरात्रि के पावन पर्व की...

अच्छे किरदार, अच्छे संस्कार और अच्छे विचार वाले लोग...

सर्वजन हिताय, सर्वजन सुखाय की अवधारणा के प्रतीक, महापुरुष,...