एक चेहरे की अहमियत – Ahmiyat, Nazar, Khafa, Fida Shayari

एक चेहरे की अहमियत
हर एक नजर में अलग सी क्यूँ है,
उसी चेहरे पर कोई खफा
तो कोई फिदा सा क्यूँ है.

यह भी पढ़ें

कितने चेहरे कितनी शक्लें – Chehre, Shakl, Tanhai, Aaina Par Sad Shayari

कितने चेहरे कितनी शक्लेंफिर भी तन्हाई वही,कौन ले आया...

फिदा हो जाऊँ – Fida, Adayein, Betab Dil Best Tareef Shayari

फिदा हो जाऊँतेरी किस-किस अदा पर,अदायें लाख तेरीबेताब दिल...

कभी दिमाग, कभी दिल – Dimag, Dil, Nazar, Ghar Romantic Shayari for GF/BF

कभी दिमाग, कभी दिलकभी नज़र में रहो,ये सब तुम्हारे...

टॉप ट्रेंडिंग

जिंदगी के इस रण में खुद ही कृष्ण और...

आओ लें समाजिक एकता का संकल्प, समाज की तरक्की...

सिया रघुवर जी के संग परन लगी हरे हरेपरन...