गलतियों से जुदा तू भी नहीं, मैं भी नहीं

गलतियों से जुदा तू भी नहीं, मैं भी नहीं

दोनों इंसान है, खुदा तू भी नहीं, मैं भी नहीं

तू मुझे और मैं तुझे इल्जाम देते है मगर

अपने अन्दर झांकता तू भी नहीं, मैं भी नहीं

गलतफहमियो ने कर दी दोनों में पैदा दूरियां

वरना फितरत का बुरा तू भी नहीं, मैं भी नहीं

अपने अपने रास्तों पर दोनों का सफ़र जारी रहा

एक लम्हे को रुका तू भी नहीं, मैं भी नहीं

चाहते दोनों बहुत एक दुसरे को है मगर

ये हकीकत मानता तू भी नहीं, मैं भी नहीं

यह भी पढ़ें

भाई बहन पर बेस्ट शायरी स्टेट्स । Bhai Behan Ki Shayari Best Status in Hindi

है प्रभु, मेरी दुआओं का असर इतना रहे किमेरी...

टॉप ट्रेंडिंग

मुक़द्दर से कह दोअकेला नहीं हूँ मैं,दुआओं का काफिलाचलता...

मुझमें हुनर कुछ खास नहींसादगी के सिवा कुछ मेरे...

नफरत खुलकर औरमोहब्बत छुप कर करते है,हम इंसान अपनी...