गम इस कदर मिला कि – Gam, Khushi, Pina, Sharab, Taras, Tanha Par Shayari

गम इस कदर मिला कि घबराकर पी गए हम,
खुशी थोड़ी सी मिली, उसे खुश होकर पी गए हम,
यूं तो ना थे हम पीने के आदी,
शराब को तन्हा देखा तो तरस खाकर पी गए हम।

यह भी पढ़ें

तू साथ है तो फिर – Sath, Gam, Ruthna, Saja Par Shayari

तू साथ है तो फिरकोई गम नहीं,पर तेरा रूठना...

अब इस खुशी का हिसाब – Khushi, Hisab, Janab, Haal Puchhna Shayari for GF/BF

अब इस खुशी का हिसाब कैसे हो ?आज उसने...

टॉप ट्रेंडिंग

एक कौआ था जो अपनी जिंदगी से बहुत खुश...

तुझे चाहा भी तो इजहार न कर सके,कट गई...

उधर उनकी चल रही हैऔरों से गुफ़्तगू,इधर मेरी खुद...