चिलचिलाती धूप में – Garmi, Chhav, Mor, Gaav Par Shayari by Dr. Nimisha

चिलचिलाती धूप में आए ढूंढने छांव,
देखा जब मोर को याद आ गया गांव!

  • डॉ. निमिषा

यह भी पढ़ें

गर्मी पर शायरी स्टेट्स जोक्स । Garmi Shayari Status Jokes in Hindi

जैसे तैसे रात कटी है दिन कैसे ये गुजरेगा,लगता...

टॉप ट्रेंडिंग

सिया रघुवर जी के संग परन लगी हरे हरेपरन...

लोक आस्था एवं सूर्य उपासना के महापर्व छठ पूजा...

विजेता पर शायरी जो कभी असफल नहीं हुएविजेता वो नहीं...