हुस्न का भाव अभी – Husn, Bhav, Shahar, Aashiq, Mehbub Par Shayari

हुस्न का भाव अभी
और बढ़ेगा शहर में,
दो आशिकों ने एक ही
महबूब चुन लिया है.

यह भी पढ़ें

सुना है बहुत बारिश है तुम्हारे शहर में – Barish, Shahar, Bhigna, Galatfahmiyan, Yaad Par Shayari

सुना है बहुत बारिश है तुम्हारे शहर में,ज्यादा भीगना...

हुनर मोहब्बत का – Hunar, Mohabbat, Husn, Ishq Par Shayari

हुनर मोहब्बत काहर किसी को कहाँ आता है,लोग हुस्न...

कैसे लगते होंगे – Chand, Raat, Shahar Par Tareef Shayari Status

कैसे लगते होंगेएक साथ दो चाँद,ठहर के देखेंगे किसी...

टॉप ट्रेंडिंग

हुस्न-ए-बेनजीर के तलबगार हुए बैठे हैं,उनकी एक झलक को...

अपनी दुनिया, अपनी धुन मेंखो जाऊं तो क्या होगा...

आप सभी को शारदीय #नवरात्रि के पावन पर्व की...