हम जागते रहे – Jagna, Duniya, Sona, Barish, Rona Par Shayari

हम जागते रहे
दुनिया सोती रही,
इक बारिश ही थी
जो मेरे साथ रोती रही.

यह भी पढ़ें

बरसती बारिशों से – Barish, Mausam Par Shayari Status in Hindi

बरसती बारिशों सेबस इतना ही कहना है,के इस तरह...

मेरी आँखों में छुपी – Aankhein, Chhupi, Udasi, Mehsus, Hasna, Rona Shayari

मेरी आँखों में छुपीउदासी को महसूस तो कर,हम वह...

तेरी गलियें में कदम – Galiyan, Kadam, Kichad, Barsat Par Shayari

तेरी गलियें में कदमनहीं रखेंगे हम आज के बाद,क्योंकि...

टॉप ट्रेंडिंग

सिया रघुवर जी के संग परन लगी हरे हरेपरन...

जिम्मेदारियों का बोझ परिवार पे पड़ा तो ,ऑटो ,...

परदेसी से दिल ना लगानावो बड़े मजबूर होते हैं,वो...