बेटियों पर कविता तिवारी की कविता । Kavita Tiwari Poem on Beti

जिम्मेदारियों का बोझ परिवार पे पड़ा तो ,
ऑटो , रिक्शा , ट्रेन को चलाने लगी बेटियाँ !!
साहस के साथ , अंतरिक्ष तक भेद डाला ,
सुना है वायुयान भी उड़ाने लगी बेटियाँ !!

और कितने उदाहरण ढूँढ कर लाऊं ,
हर क्षेत्र शक्ति आजमाने लगी बेटियाँ !!
वीर की सहादत पर , अर्थी को कन्धा देके ,
अब शम्शान तक भी जाने लगी बेटियाँ !!

घर में बंटा के हाथ , रहती हैं माँ के साथ
पिता की समस्त बाधा हरती है बेटियाँ !!
कटु वाक्य बोलने से पूर्व सोचती है खूब
मन में सहमती है , डरती है बेटियाँ !!

बेटे हो कुदंड भले , आपका दुखा दे दिल
कष्ट सह के भी धैर्य धरती हैं बेटियाँ !!
प्रश्न ये चलनशील सबके लिए है आज ,
नित्य प्रति कोख में क्यों मरती है बेटियाँ !!

ललिता , विशाखा , राधा रानी बेटी होती नहीं
यशोदा दुलारे नन्द नंदन नचाता कौन ?
अनुसुइया जैसी बेटी , तप्साधिका न होती
पालने में ब्रह्मा , विष्णु , रूद्र को झुलाता कौन ?

जनता जनार्दन बताएगी एक बात आज ,
सावित्री न होती सत्यवान को बचाता कौन ?
सब कुछ होता , पर एक बात सोच लेना
कविता न होती , तो यह कविता सुनाता कौन ?

Writer – Kavita Tiwari

यह भी पढ़ें

बेटियाँ खुदा की दी हुई बरकत होती है – Beti Status Video | Daughters Day 2022

बेटियाँ खुदा की दी हुई बरकत होती है,बहुतो के...

बेटी हमारे घर में आई । बेटी पर कविता । Beti Hamare Ghar Me Aayi – Beti Par Kavita

बेटी हमारे घर में आई,खुशियों की बारात लाई,प्यार का...

छोटी सी किशोरी मोरे अंगना मे डोले रे लिरिक्स : Choti Si Kishori Mere Angana Mein Dole Re Lyrics in Hindi

छोटी सी किशोरी, मोरे अंगना मे डोले रेछोटी सी...

टॉप ट्रेंडिंग

वो कहाँ तूझसे इश्क़ करता है,बस तन्हा होता है...

देश और दुनियां में शांति और भाईचारा बना रहे,...

कोमल है कमज़ोर नहीं तूशक्ति का नाम ही नारी...