लहु देकर तिरंगे की – Lahu Dekar, Tiranga, Bulandi, Farishtey, Vatan Par Desh Bhakti Shayari

लहु देकर तिरंगे की
बुलंदी को संवारा है,
फरिश्ते हो तुम वतन के
तुम्हे सजदा हमारा है!

यह भी पढ़ें

शिवराम हरि राजगुरु जयंती पर संदेश, स्टेट्स, शायरी, कोट्स

मातृभूमि पर हँसते-हँसते अपना सर्वस्व बलिदान कर देने वाले...

स्वतंत्रता दिवस पर कविताएं – Hindi Poems on Independence Day

Vijayi Vishwa Tiranga Pyara विजयी विश्व तिरंगा प्यारा हमाराझंडा ऊंचा...

स्वतंत्रता दिवस पर देशभक्ति शायरी । Independence Day Desh Bhakti Shayari in Hindi

क्यों मरते हो यारो सनम के लिए,ना देगी दुपट्टा...

टॉप ट्रेंडिंग

कोमल है कमज़ोर नहीं तूशक्ति का नाम ही नारी...

हम शिक्षक है, शिक्षा की तस्वीर बदल देंगेभारत के...

जिंदगी के इस रण में खुद ही कृष्ण और...