लल्लू चार वर्ष से एक सर्कस में

लल्लू चार वर्ष से एक सर्कस में शेरों को ट्रेनिंग दे रहा था-
एक दिन सुबह नाश्ता करते समय किसी बात पर पत्नी से बहस हो गई… 🥱
लल्लू को गुस्सा आ गया और वो नाश्ता छोड़ कर सर्कस चला गया-😎
पत्नी गुस्से में आग बबूला हो गई और उसने भी लल्लू को रोका नहीं.. 😀
शाम को अचानक धुंआधार बारिश शुरू हो गई….
लल्लू का गुस्सा अभी तक ठंडा नहीं हुआ था इसलिए उसने फैसला किया कि आज रात घर नहीं जाऊंगा…. 😎
और वो शेर के साथ पिंजरे में ही लेट गया और कम्बल तान के सो गया…. 😀
रात ज़्यादा बीत गई तो घर पर पत्नी को चिंता हुई ….🥱
मोबाइल पर कॉल किया लेकिन उस समय लल्लूगहरी नींद सो रहा था, फोन सुना ही नहीं😀
पत्नी की परेशानी चरम पर पहुंच गई-
उसने कार निकाली और खुद ड्राइव करके सर्कस जा पहुंची….😀
देखा लल्लू शेर के पिंजरे में खर्राटे ले रहा है🥱
पत्नी ने एक छड़ी उठाई और शेर के पिंजरे के पास गईं ।उसने छड़ी को लल्लू पर चुभोते हुए कहा:-
डरपोक कहीं के… यहां छुपे बैठे हो ❓ तुम्हें क्या लगता है… ये शेर तुम्हें मुझसे बचा लेगा…..”….❓
🤣🤣🤣🤣

यह भी पढ़ें

कुमार विश्वास की टॉप शायरियां । Kumar Vishwas Top Shayari in Hindi

अपनी दुनिया, अपनी धुन मेंखो जाऊं तो क्या होगा...

जय माता दी शायरी – Jai Mata Di Shayari Status in Hindi

कहने की जरूरत नहीआना ही बहुत हैंमाँ काली के...

ना चांद चाहिए – Chand, Falak, Teri Jhalak

ना चांद चाहिएना फलक चाहिएमुझे तो बस तेरीएक झलक...

टॉप ट्रेंडिंग

चिलचिलाती धूप में आए ढूंढने छांव,देखा जब मोर को...

वो कहाँ तूझसे इश्क़ करता है,बस तन्हा होता है...

उम्मीदें तैरती रहती हैं,कश्तियां डूब जाती है.. कुछ घर सलामत...