नफरत खुलकर और मोहब्बत – Nafrat, Mohabbat, Chhupkar, Insaan, Duniya, Dar Par Shayari

नफरत खुलकर और
मोहब्बत छुप कर करते है,
हम इंसान अपनी ही बनाई दुनिया से
कितना डरते है।

यह भी पढ़ें

लोगों से रिश्ते निभाकर – Rishtey, Sikh, Fikar, Insaan, Bhav Par Shayari

लोगों से रिश्ते निभाकरमैंने सिर्फ एक ही बात सीखी...

गुरुर में इंसान को – Gurur, Insaan, Chhat, Makan Par Shayari

गुरुर में इंसान कोकभी इंसान नहीं दिखताजैसे अपनी छत...

रामधारी सिंह दिनकर के अनमोल विचार | Ramdhari Singh Dinkar Quotes in Hindi

इच्छाओं का दामन छोटा मत करो ,जिंदगी के फल...

टॉप ट्रेंडिंग

इतना तो करना स्वामी जब प्राण तन से निकले,गोविन्द...

बा मुश्किल हैये गवारा करनादिल से उतरे हुए लोगों...

हो भी नहीं और हर जहाँ होतुम एक गोरखधंधा...