पंडित मदन मोहन मालवीय के अनमोल विचार – Pandit Madan Mohan Malviya Quotes

भारतीय सभ्यता और संस्कृति की विशालता और उसकी महत्ता तो सम्पूर्ण मानव के साथ तादात्म्य संबंध स्थापित करने अर्थात् ‘वसुधैव कुटुम्बकम्‘ की पवित्र भावना में निहित है।

भारत की एकता का मुख्य आधार एक संस्कृति है, जिसका प्रवाह कहीं नहीं टूटा। यही इसकी विशेषता है। भारतीय एकता अक्षुण्ण है क्योंकि भारतीय संस्कृति की धारा निरंतर बहती रही है और बहेगी।

यह भी पढ़ें

टॉप ट्रेंडिंग

इतना तो करना स्वामी जब प्राण तन से निकले,गोविन्द...

बा मुश्किल हैये गवारा करनादिल से उतरे हुए लोगों...

हो भी नहीं और हर जहाँ होतुम एक गोरखधंधा...