इक परिंदा अभी उड़ान में है – Parinda, Teer, Kaman, Chuppi, Imtihan Par Shayari

इक परिंदा अभी उड़ान में है
तीर हर शख़्स की कमान में है
जिस को देखो वही है चुप चुप सा
जैसे हर शख़्स इम्तिहान में है

यह भी पढ़ें

टॉप ट्रेंडिंग

सिया रघुवर जी के संग परन लगी हरे हरेपरन...

जिम्मेदारियों का बोझ परिवार पे पड़ा तो ,ऑटो ,...

परदेसी से दिल ना लगानावो बड़े मजबूर होते हैं,वो...