“शिक्षक” और “सड़क” – Shikshak, Sadak, Manjil Par Suvichar

“शिक्षक” और “सड़क”
दोनों एक जैसे होते हैं
खुद हाँ हैं वहीं पर रहते हैं,
मगर दूसरों को
उनकी मंज़िल तक
पहुंचा देते हैं.

यह भी पढ़ें

टॉप ट्रेंडिंग

आप सभी को शारदीय #नवरात्रि के पावन पर्व की...

हुस्न-ए-बेनजीर के तलबगार हुए बैठे हैं,उनकी एक झलक को...

अच्छे किरदार, अच्छे संस्कार और अच्छे विचार वाले लोग...