तोहफा लाने निकला था – Tohfa, Shahar, Sasta Par Shayari in Hindi

तोहफा लाने निकला था
शहर में तेरे लिए
कम्बखत खुद से सस्ता
कुछ ना मिला

यह भी पढ़ें

पानी के बुलबुलों का – Pani, Bulbule, Safar, Tohfa, Dil Par Sad Shayari

पानी के बुलबुलों कासफ़र जानते हुएतोहफ़े में दिल न...

दौड़ती भागती जिंदगी का – Zindagi, Tohfa, Apnapan, Khafa Par Shayari

दौड़ती भागती जिंदगी कायही तोहफ़ा हैखूब लुटाते रहे अपनापनफिर...

तोहफ़ा ये ज़माने भर से – Tohfa, Jamana, Yaar, Surat, Khuda Shayari

तोहफ़ा ये ज़माने भर सेजुदा मिला हमकोएक यार की...

टॉप ट्रेंडिंग

जिंदगी के इस रण में खुद ही कृष्ण और...

विजेता पर शायरी जो कभी असफल नहीं हुएविजेता वो नहीं...

चमचा जिस बर्तन में रहता हैउसे खाली कर देता...