उगा हे सूरज देव भोर भिनसरवा – छठ गीत लिरिक्स । Uga Ho Suraj Dev Bhore Bhinusarwa – Chhath Geet Lyrics in Hindi

उगा हे सूरज देव भोर भिनसरवा,
उगा हे सूरज देव भोर भिनसरवा,
अरघ के रे बेरवा हो पूजन के रे बेरवा हो ||

बड़की पुकारे देव दुनु कर जोरवा,
अरघ के रे बेरवा हो पूजन के रे बेरवा हो ||

बाझिन पुकारें देव दुनु कर जोरवा,
अरघ के रे बेरवा हो पूजन के रे बेरवा हो ||

अन्हरा पुकारे देव दुनु कर जोरवा,
अरघ के रे बेरवा हो पूजन के रे बेरवा हो ||

निर्धन पुकारे देव दुनु कर जोरवा,
अरघ के रे बेरवा हो पूजन के रे बेरवा हो ||

कोढ़िया पुकारे देव दुनु कर जोरवा,
अरघ के रे बेरवा हो पूजन के रे बेरवा हो ||

लंगड़ा पुकारे देव दुनु कर जोरवा,
अरघ के रे बेरवा हो पूजन के रे बेरवा हो ||

उगह हे सूरज देव भेल भिनसरवा,
अरघ के रे बेरवा हो पूजन के रे बेरवा हो ||

यह भी पढ़ें

पहिले पहिले हम कईनी – छठ पूजा के गीत । Pahile Pahil Hum Kaini Chhathi Maiya Geet Lyrics in Hindi

पहिले पहिले हम कईनी,छठी मईया वरत तोहार ,छठी मईया...

कांच ही बांस के बहंगिया – छठ गीत लिरिक्स – Kanch Hi Bans Ke Bahangiya – Chhath Geet Lyrics in Hindi

कांच ही बांस के बहंगिया,कांच ही बांस के बहंगिया, बहंगी...

छठ पूजा की हार्दिक शुभकामनाएं व बधाई संदेश । Chhath Puja Wishes Poster Banner Photos Images Quotes Status in Hindi

लोक आस्था एवं सूर्य उपासना के महापर्व छठ पूजा...

टॉप ट्रेंडिंग

जिंदगी के इस रण में खुद ही कृष्ण और...

“शिक्षक” और “सड़क”दोनों एक जैसे होते हैंखुद हाँ हैं...

आओ लें समाजिक एकता का संकल्प, समाज की तरक्की...