हमारा व्यवहार कई बार हमारे ज्ञान से – Vyavhar, Gyan, Jiwan, Visham Paristhitiyan, Haar, Jeet par Suvichar

हमारा व्यवहार कई बार हमारे ज्ञान से
अधिक अच्छा साबित होता है। क्योंकि “जीवन” में जब
विषम परिस्थितियां आती हैं तो ज्ञान हार सकता है,
परन्तु व्यवहार से जीत की सम्भावना बनी रहती है

यह भी पढ़ें

अनुभव वह कंघी है – Anubhav, Kanghi, Jiwan, Samay, Baal Jhadhna Par Suvichar

अनुभव वह कंघी है, जोजीवन में उस समयहाथ आती...

जानें क्यों नहीं लगता है पढ़ाई में मन ?

✅ घर में पढ़ने का माहौल ना होना✅ पैसों...

Shree Krishna Mahabharat Suvichar

यदि हार की संभावना ना होतो जीत का कोई...

टॉप ट्रेंडिंग

तुझे चाहा भी तो इजहार न कर सके,कट गई...

एक कौआ था जो अपनी जिंदगी से बहुत खुश...

छोटी सी किशोरी, मोरे अंगना मे डोले रेछोटी सी...