वक्त अच्छा हो तो – Waqt, Galti, Majak, Kharab Par Shayari

वक्त अच्छा हो तो
आप की गलती भी मजाक लगती हैं,
और वक्त खराब हो तो
मजाक भी गलती बन जाता है.

यह भी पढ़ें

जब तक खुद पर नहीं गुजरती – Khud Par, Ahsaas, Jazbaat, Majak Par Shayari

जब तक खुद पर नहीं गुजरती,अहसास और जज़्बात मज़ाक...

टॉप ट्रेंडिंग

आप सभी को शारदीय #नवरात्रि के पावन पर्व की...

हुस्न-ए-बेनजीर के तलबगार हुए बैठे हैं,उनकी एक झलक को...

सिया रघुवर जी के संग परन लगी हरे हरेपरन...